शनिवार, 21 अगस्त 2010

कल फिर दिल्ली

कल रविवार को दिल्ली जा रहा हूँ। सोमवार दोपहर तक रुकने का कार्यक्रम है। कम समय में अधिक से अधिक मित्रों से मिलना चाहता हूँ। JNU और DU भी जाना चाहता हूँ। इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में भी एक कार्यक्रम है। कितने सारे काम हैं करने को, और वक़्त कितना कम मिला है हमें...

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें